THE ADDA
THE ADDA: Hindi News, Latest News, Breaking News in Hindi, Viral Stories, Indian Political News

बसपा सुप्रीमो मायावती पर आपत्तिजनक टिप्पणी पर बसपा नेता ने दी सिर कलम करने की धमकी

0 5,769

बसपा मुखिया मायावती पर भाजपा की विधायक साधना सिंह द्वारा की गई आपत्तिजनक टिप्पणी का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। बसपा समर्थक इस मामले में भाजपा विधायक साधना सिंह से बिना किसी देरी के माफ़ी की माँग कर रहे हैं। वहीं बसपा समर्थक विजय यादव ने ऐलान किया कि अगर साधना सिंह माफ़ी नहीं माँगती हैं तो उन्हें अपनी जान से भी हाथ धोना पड़ सकता है। केवल यही नहीं उन्होंने साधना सिंह का सिर कलम करने के लिए 50 लाख रुपए का इनाम भी रख दिया है। विजय यादव का कहना है कि वह बहनजी पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी से दुखी हैं। अगर भाजपा विधायक साधना सिंह माफ़ी नहीं माँगती हैं तो हम उनके ख़िलाफ़ प्रदर्शन करेंगे।

दें संतोषजनक स्पष्टीकरण:

गौरतलब है कि बसपा प्रमुख मायावती की तुलना कथित तौर पर किन्नर से करने संबंधी बयान की निंदा करते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग ने सोमवार को भाजपा विधायक साधना सिंह को नोटिस जारी कहा था कि वह अपनी इस ‘अनैतिक, अपमानजनक और गैरजिम्मेदाराना’ टिप्पणी पर संतोषजनक स्पष्टीकरण दें। आयोग ने साधना सिंह के कथित बयान से जुड़ी खबरों का हवाला देते हुए कहा था कि यह टिप्पणी ‘बेहद आक्रामक, अनैतिक है व यह महिलाओं की गरिमा और सम्मान का अनादर करती है।’ उसने कहा था कि आयोग जिम्मेदार पर पर बैठे लोगों की ओर से दिए जाने इस तरह के गैरजिम्मेदाराना बयान की निंदा करता है। महिला आयोग ने कहा था कि भाजपा विधायक नोटिस मिलने के बाद अपने कथित बयान के संदर्भ में आयोग को संतोषजनक स्पष्टीकरण दें।

चौतरफ़ा आलोचना के बाद साधना ने माँग ली माफ़ी:

ध्यान हो कि उत्तर प्रदेश में मुगलसराय क्षेत्र से भाजपा विधायक साधना सिंह ने चंदौली जिले के करणपुरा गांव में शनिवार को आयोजित किसान कुंभ कार्यक्रम में मायावती को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। उन्होंने बसपा प्रमुख का जिक्र करते हुए कहा था कि हमको तो उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ना तो महिला लगती हैं और ना ही पुरुष। इनको तो अपना सम्मान ही समझ में नहीं आता। जिस महिला का इतना बड़ा चीरहरण हुआ लेकिन कुर्सी पाने के लिए उसने अपने सारे सम्मान को बेच दिया।

ऐसी महिला मायावती का हम इस कार्यक्रम के माध्यम से तिरस्कार करते हैं। साधना ने आरोप लगाया था, “वह महिला नारी जात पर कलंक हैं। जिस महिला की आबरू को भाजपा के नेताओं ने लुटते-लुटते बचाया उसी ने सुख-सुविधा के लिए अपमान को पी लिया। ऐसी महिला तो किन्नर से भी ज्यादा बदतर है। वह ना नर है, ना महिला है, उसकी किस श्रेणी में गिनती करनी है। बयान पर विवाद खड़े होने और चौतरफा आलोचना के बाद साधना ने माफी मांग ली थी।

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More