THE ADDA
THE ADDA: Hindi News, Latest News, Breaking News in Hindi, Viral Stories, Indian Political News

कभी अटल जी को दुखी देखकर दिलीप कुमार ने लगायी थी नवाज़ शरीफ़ की क्लास

दिलीप कुमार की आवाज़ सुनते ही घबरा गए नवाज़ शरीफ़

4,074

Atal Bihari Vajpayee

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अब हमारे बीच में नहीं रहे। एक लम्बी बीमारी की वजह से 16 अगस्त को शाम 5:05 बजे इन्होंने अपनी आख़िरी साँस दिल्ली के एम्स में ली। अटल जी की मौत से पूरे भारत में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। राजनीतिक गलियारे से लेकर बॉलीवुड तक में दुःख का माहौल देखा जा सकता है। अटल जी की मौत पर कई बॉलीवुड स्टार्स ने अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि दी है। अटल बिहारी के बारे में कहा जाता है कि ये बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। ये के बेहतरीन राजनेता, बेहतरीन इंसान होने के साथ-साथ एक बेहतरीन कवि भी थे।

 

कर दिया करोड़ों दिलों को रोने पर मजबूर:

अटल बिहारी वाजपेयी का ऐसा व्यक्तित्व था कि जो भी इनसे एक बार मिलता था, वह इनका दीवाना हो जाता था। ना चाहते हुए कई लोग इनके दीवाने हो गए। राजनीति में विपक्ष भी इनका दीवाना हुआ करता था। जब ये भाषण देते थे तब विपक्ष भी इनकी बात को शांति से सुनता था। इन्होंने देश के लिए कई ऐसे कार्य किए हैं, जिसकी वजह से इन्हें हमेशा याद किया जाएगा। अटल जी भारतीय राजनीति में उस सितारे की तरह थे जो हमेशा उदीयमान रहा और सबको रौशन करता रहा। लेकिन आज यह सितारा बुझ गया है करोड़ों दिलों को रोने पर मजबूर कर गया।

 

दिलीप कुमार से थे अटल जी के अच्छे रिश्ते:

Atal Bihari Vajpayee

अटल बिहारी वाजपेयी के व्यक्तित्व के बारे में हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि ये ऐसे व्यक्ति थे, कि जो भी इनसे एकबार मिल ले, वह इनका दीवाना हो जाता था। इसी वजह से अटल बिहारी वजेपयी के जीवन में कई दोस्त रहे। यहाँ तक की बॉलीवुड से भी इनके रिश्ते काफ़ी अच्छे थे। अपने ज़माने के मशहूर अभिनेता दिलीप कुमार से अटल जी को गहरी दोस्ती थी। इसी वजह से एक बार अटल बिहारी वाजपेयी को दुखी देखकर दिलीप साहब ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ को काफ़ी खरी-खोटी सुनाई थी।

 

 

मुशर्रफ़ की शह पर शुरू हो गयी भारत में घुसपैठ:

जानकारी के अनुसार यह मामला उस समय का है जब अटल बिहारी वाजपेयी भारत के प्रधानमंत्री थे। उस समय लाहौर यात्रा में घोषणा पत्र के साथ ऐसी उम्मीद जताई जा रही थी कि भारत-पाकिस्तान के रिश्ते अब दोस्ताना हो सकते हैं। जब वाजपेयी जी पाकिस्तान गए थे तो वहाँ के कई कट्टरपंथी समूहों ने उनकी यात्रा का जमकर विरोध किया था। भारत और पाकिस्तान की यह दोस्ती हुई तो ज़रूर लेकिन ज़्यादा दिनों तक टिक नहीं पायी। पाकिस्तान ने नए सेना प्रमुख जनरल परवेज़ मुशर्रफ़ की शह पर भारत के कारगिल में घुसपैठ शुरू हो गयी। भारत और पाकिस्तान के बीच स्थिति फिर तनावपूर्ण हो गयी।

 

दिलीप कुमार से करवाई नवाज़ शरीफ़ की बात:

Atal Bihari Vajpayee

भारत को नुक़सान पहुँचाने के मक़सद से पाकिस्तानी सेना और आतंकी मिलकर भारत में घुस गए और यहाँ के कारगिल क्षेत्र पर क़ब्ज़ा कर लिया। इससे अटल जी काफ़ी दुखी हुए थे। वह उस समय के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ और सेना प्रमुख जनरल परवेज़ मुशर्रफ़ से नाराज़ हो गए। इस बात का ज़िक्र उन्होंने एक दिन अपने दोस्त दिलीप कुमार से किया। इसके बाद दिलीप कुमार ने ख़ुद पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ से बात की। उस समय अटल जी ने नवाज़ शरीफ़ को शिकायत भरा फ़ोन किया और उनके साथ बैठे दिलीप कुमार से बात करवाई।

 

दिलीप कुमार की आवाज़ सुनते ही घबरा गए नवाज़ शरीफ़:

दिलीप कुमार की आवाज़ सुनते ही नवाज़ शरीफ़ बहुत घबरा गए। लेकिन दिलीप साहब ने बोलना बंद नहीं किया, वो लगातार बोलते रहे और नवाज़ शरीफ़ से कहा, मियाँ साहिब आपने हमेशा अमन के बड़े समर्थक होने का दावा किया है, इसलिए आज हम आपसे जंग की उम्मीद नहीं करते हैं। तनाव के माहौल में भारत के मुसलमान बहुत असुरक्षित हो जाते हैं। इसलिए हालात को क़ाबू करने के लिए बराय मेहरबानी कुछ कीजिए।’ पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री ख़ुर्शीद कसूरी ने अपनी किताब ‘निदर ए हॉक नार ए डव’ में दिलीप कुमारके इस क़िस्से का ज़िक्र किया है।

 


इसे भी पढ़ें:

 

 

 

 

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More