THE ADDA
THE ADDA: Hindi News, Latest News, Breaking News in Hindi, Viral Stories, Indian Political News

आयुष्मान योजना का लाभ आप ले सकते हैं या नहीं, जानें इन तीन तरीक़ों से

25 सितम्बर को लागू होगी यह योजना

6,251

आयुष्मान योजना का लाभ आप ले सकते हैं या नहीं, जानें इन तीन तरीक़ों से:-

भारत में रविवार को दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना आयुष्मान भारत का शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड की राजधानी राँची से कर दिया है। बताया जा रहा है कि इस योजना की वजह से देश के लगभग 50 करोड़ लोगों को स्वास्थ्य बीमा कवर मिलेगा। आयुष्मान भारत योजना के तहत देश के लगभग 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपए तह का मुफ़्त हेल्थ इंश्योरेंस मिलेगा। बता दें इस बीमा योजना ने अंतर्गत लगभग सभी गम्भीर रोगों का इलाज किया जाएगा।

हो सकेगा 1300 गम्भीर रोगों का इलाज:

केंद्र सरकार का आयुष्मान भारत योजना के बारे में कहना है कि इस योजना के तहत किसी भी सरकारी या प्राइवेट अस्पताल में कैशलेश इलाज आसानी से करवाया जा सकता है। इस योजना के तहत लगभग 50 करोड़ लोगों को फ़ायदा पहुँचेगा। जानकारी के अनुसार लॉंचिंग के पहले केंद्र सरकार ने इस योजना का नाम बदल दिया। अभी तक इस योजना को लोग आयुष्मान भारत योजना के नाम से जानते थे, लेकिन अब इस योजना का नाम प्रधानमंत्री जन आरोग्य अभियान कर दिया गया है। पीएम मोदी ने इस योजना के बारे में कहा कि 1300 गंभीर बीमारियों का इलाज सरकारी ही नहीं बल्कि निजी अस्पतालों में भी होगा।

25 सितम्बर को लागू होगी यह योजना:

इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि अगर पहले से भी कोई व्यक्ति बीमार है तो उसका भी इलाज इस योजना के अंतर्गत किया जा सकेगा। बता दें यह योजना 25 सितम्बर यानी पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर पर लागू हो जाएगी। इस योजना का लाभ आपको या आपके परिवार को मिलेगा या नहीं मिलेगा? आपका नाम अभी तक आयुष्मान योजना से जुड़ा है या नहीं? आप इसकी जाँच ख़ुद ही आसानी से कर सकते हैं। यह कैसे करना है, इसके बारे में आज हम आपको बताएँगे। इस बारे में आयुष्मान भारत के सीईओ डॉक्टर इन्दु भूषण का कहना है कि लोगों के पास फ़िलहाल तीन तरीक़े हैं, जहाँ से वह यह पता कर सकते हैं कि उन्हें इस योजना का लाभ मिलेगा या नहीं?

 

आयुष्मान योजना में आपका नाम है या नहीं, जानें इस तरह से:

वेबसाइट:

केंद्र सरकार ने योजना से जुड़ी एक वेबसाइट भी लॉंच की है। इस वेबसाइट का नाम https://mera.pmjay.gov.in’ है। कोई भी व्यक्ति इस वेबसाइट के ज़रिए अपने बारे में पता कर सकता है। चाहे वह किसी भी राज्य का रहने वाला हो।इसके लिए सबसे पहले आपको https://mera.pmjay.gov.in पर जाना होगा। यहाँ आपको होम पेज पर ही ‘PM Jan Arogya Yojana’ बॉक्स मिलेगा। यहाँ जाकर आप अपना मोबाइल नम्बर डालें। इसके बाद आपके मोबाइल पर एक ओटीपी आएगा। जिसको डालते ही आपको पता चल जाएगा कि अभी तक आपका नाम इस योजना से जुड़ा हुआ है या नहीं।

फ़ोन नंबर:

आयुष्मान भारत के सीईओ इन्दु भूषण ने बताया कि जिसके पास इंटरनेट की सुविधा नहीं है, वह भी आसानी से इस योजना में अपना नाम जुड़ा होने के बारे में पता कर सकता है। इसके लिए सरकार की तरफ़ से हेल्पलाइन नम्बर जारी किया गया है। 14555 नम्बर पर कॉल करके आसानी से पता कर सकते हैं कि अभी तक आपका नाम इस योजना से जुड़ा है या नहीं। इस नम्बर पर कॉल करने के बाद आपसे कुछ जानकारी पूछी जाएगी। जिसको उपलब्ध करवाने के तुरंत बाद ही आपको पता चल जाएगा कि आपका नाम अभी तक इस योजना से जुड़ा है या नहीं।

 

सूचीबद्ध अस्पताल:

आयुष्मान भारत योजना के सीईओ इन्दु भूषण का कहना है कि जो लोग इंटरनेट या फ़ोन से जानकारी ले पानें में असमर्थ हैं वो लोग अस्पतालों में जाकर भी इसके बारे में जान सकते हैं कि अभी तक उनका नाम इस योजना से जुड़ा है या नहीं। इसके लिए आपको आयुष्मान भारत से जुड़े हुए अस्पताल में जाना होगा। बता दें सरकार की तरफ़ से सूचीबद्ध किए गए अस्पतालों में आरोग्य मित्रों की तैनाती की गयी है। आरोग्य मित्र से सम्पर्क करके भी आप आसानी से यह जान सकते हैं की आपका नाम अभी तक जुड़ा की नहीं। सूचीबद्ध अस्पताल में तैनात आरोग्य मित्र आपसे पहचान के लिए राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड जैसे दस्तावेज़ों की माँग करेंगे।

व्यक्ति को दिया जाएगा ई-कार्ड:

आपकी पहचान साबित हो जानें के बाद अगर आपका नाम योजना में मिल जाता है तो फिर आपको ई-कार्ड दिया जाएगा। इसकी मदद से आप कभी भी इस योजना का लाभ उठा सकेंगे। ई-कार्ड में सम्बंधित व्यक्ति का नाम और फ़ोटो होगा, जबकि पीछे लाभार्थी का पूरा पता लिखा होगा।

दुनिया का सबसे बड़ा सरकारी फ़ंड वाला कार्यक्रम:

आपकी जानकारी के लिए बता दें इस योजना के दायरे में ग़रीब, वंचित ग्रामीण परिवार और शहरी श्रमिकों परिवारों की पेशेवर श्रेणियाँ आएँगी। नवीनतम सामाजिक आर्थिक जातीय जनगणना के हिसाब से गाँवों में ऐसे 8.03 करोड़ और शहरों में 2.33 करोड़ परिवार हैं। इस योजना का लाभ लगभग 50 करोड़ लोगों को मिलेगा। केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना आयुष्मान भारत योजना में अस्पताल में भर्ती होने से तीन दिन पहले से लेकर 15 दिन बाद तक की सभी दवाओं और जाँच का ख़र्च शामिल होगा। आयुष्मान भारत के सीईओ डॉक्टर इन्दु भूषण का मानना है कि यह दुनिया का सबसे बड़ा सरकारी फ़ंड वाला स्वास्थ्य बीमा कार्यक्रम है। जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस प्रोजेक्ट के लिए 10000 करोड़ रुपए का आवंटन किया है।


यह भी पढ़ें:-

 


 

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More