THE ADDA | Hindi News - Breaking News, Viral Stories, Indian Political News In Hindi

योगी ने की लोगों से अपील, जलाएँ राम के नाम का दिया, दिवाली बाद शुरू होगा मंदिर निर्माण कार्य

जल्दी से जल्दी आ जाए मंदिर पर फ़ैसला

0 5,153

जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नज़दीक आ रहा है, भाजपा ने राम मंदिर का राग अलापना शुरू कर दिया है। जहाँ एक तरफ़ सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर मामले पर सुनवाई टालकर जनवरी में कर दिया है, वहीं योगी दिवाली बाद राम मंदिर निर्माण कार्य शुरू करने की बात कर रहे हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजस्थान में शनिवार को एक चुनावी रैली में कहा कि राम मंदिर निर्माण कार्य जल्दी ही शुरू होगा। योगी ने देशभर में लोगों से अपील की है कि राम मंदिर निर्माण कार्य के लिए 6 नवम्बर को अपने प्रभु राम के नाम का एक दिया जलाएँ।

 

समाज को नई दिशा देने में निभाई है भूमिका:

chief-minister-yogi-adityanath-union-minister-pp-chaudhary-and-uma-bharti-bats-for-ram-mandir-in-ayodhya

बता दें राजस्थान के बीकानेर में एक चुनावी रैली को सम्बोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि धर्मस्थल उपासना की नहीं बल्कि राष्ट्रीय एकात्मकता के भी स्थल हैं और हर नागरिक के लिए धर्मस्थल खुले होने चाहिए। यह आज के समय की ज़रूरत है। योगी ने बीकानेर में श्रीनवलेश्वर मठ सिद्धपिठ में योगी श्रीमत्स्येंद्रनाथ, योगी गुरु गोरक्षनाथ और भगवान आदित्यदेव की प्रतिमाओं का अनावरण किया। लोगों को सम्बोधित करते हुए योगी ने कहा कि नाथ सम्प्रदाय परम्परा ने भी समाज को नई दिशा देने में बड़ी भूमिका निभाई है।

 

राम मंदिर है उनका सपना:

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महापुरुषों के जीवन को उदाहरणीय बताया और कहा कि भगवान श्रीराम का जीवन आदर्शमय रहा है। इसी बीच जब भीड़ ‘जयश्री राम’ का उद्घोष कर रही थी, तो उन्होंने कहा कि वे जानते हैं कि ‘राम के नाम पर आपकी क्या चाहत है, आपकी भावनाएं साकार रूप लें, इसके लिए देशभर में प्रत्येक घर में छह नवंबर को एक दीपक राम नाम का जलना चाहिए, दिवाली के बाद काम शुरू किया जाएगा। आपको बता दें काफ़ी समय से राम मंदिर आंदोलन से जुड़ी रहीं केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा है कि राम मंदिर उनका सपना है और वो इसको पूरा करने के लिए हर प्रयास करेंगी।

 

जल्दी से जल्दी आ जाए मंदिर पर फ़ैसला:

chief-minister-yogi-adityanath-union-minister-pp-chaudhary-and-uma-bharti-bats-for-ram-mandir-in-ayodhya

उमा भारती ने आगे कहा, राम जन्मभूमि आंदोलन में में सक्रिय रूप से भागीदार थी। इससे जुड़ा एक मामला भी अभी चल ही रहा है। उन्होंने कहा कि मुझे इसपर गर्व है। राम मंदिर का निर्माण मेरा सपना है और मेरी तरफ़ से इसके लिए जो बन पड़ेगा में करूँगी। नरेंद्र मोदी सरकार के एक और मंत्री ने भी राम मंदिर बनाने की पैरवी की है। केंद्रीय मंत्री और पाली से भाजपा के सांसद पीपी चौधरी ने कहा कि राम मंदिर निर्माण होना चाहिए और इसमें न्यायिक देरी होता है तो क़ानून बनाया जा सकता है। पीपी चौधरी ने कहा, मामला सुप्रीम कोर्ट में है और हम चाहते हैं कि इसपर जल्दी से जल्दी फ़ैसला आ जाए।

 

संतों ने कर दी है अपनी हलचलें तेज़:

उन्होंने कहा कि मैं सरकार के बारे में नहीं कह सकता लेकिन मेरी व्यक्तिगत राय है कि यदि न्याय प्रक्रिया में देरी होती है तो क़ानून बनाया जा सकता है। इधर आरएसएस ने जैसे ही मंदिर निर्माण के लिए 1992 जैसे आंदोलन की पैरवी की संतो ने हलचलें तेज़ कर दी हैं। बता दें दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में देशभर से 3 हज़ार संत जुट रहे हैं। संतों के इस जमावड़े को धर्मादेश संत महासम्मेलन नाम दिया गया है। इस कार्यक्रम का आज दूसरा दिन है। बता दें इस कार्यक्रम का आज दूसरा दिन है। इस कार्यक्रम से पहले राम मंदिर न्यास के सदस्य रामविलास वेदांती ने कहा कि आपसी सहमति से दिसंबर में भी राम मंदिर का निर्माण शुरू होगा। उन्होंने कहा कि मुस्लिम चाहें तो लखनऊ में मस्जिद बना सकते हैं।

 

 


 

Loading...

Loading...

- Advertisement -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More