THE ADDA
THE ADDA: Hindi News, Latest News, Breaking News in Hindi, Viral Stories, Indian Political News

उत्तराखंड के टिहरी में प्रकृति का बरपा क़हर, बदल फटने और भूस्खलन से 3 की मौत

तेज़ी से किया जा रहा है राहत और बचाव कार्य

3,036

सही कहा जाता है कि प्रकृति के आगे ना किसी की चली है और ना ही कभी किसी की चल सकती है, प्रकृति ही लोगों को जीवन देती है और प्रकृति जब चाहे जीवन छिन भी सकती है। जो लोग इसपर विश्वास करते हैं, उनका तो ठीक है, जो लोग नहीं करते हैं, उन्हें भी इस बात का प्रकृति कभी ना कभी यक़ीन करवा ही देती है। प्राकृतिक आपदा कभी भी पूछकर नहीं आती है। जब भी प्राकृतिक आपदा आती है तो बहुत ज़्यादा नुक़सान होता है। कई लोगों को अपनी जान से हाथ भी धोना पड़ता है।

तेज़ी से किया जा रहा है राहत और बचाव कार्य:

cloudburst

 

देवभूमि के नाम से पूरे देश में जाना जाने वाला उत्तराखंड अभी भयानक तबाही को भूल नहीं पाया था कि उत्तराखंड के टिहरी में मंगलवार रात को क़ुदरत ने अपना क़हर फिर से बरपा दिया। मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार की रात को टिहरी में बदल फटने और भूस्खलन होने की वजह से तीन लोगों की मौत हो गयी। यह ख़बर मिलने तक मलबे में 8 लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। राहत और बचाव कार्य तेज़ी से किया जा रहा है।

 

 

बचाव कार्य के लिए पहुँच गयी एसडीआरएफ की टीम:

cloudburst

 

बताया जा रहा है कि यह भयानक हादसा टिहरी के घनसाली के काट गाँव में हुआ। यहीं पर प्रकृति ने अपना क़हर बरपाया है। मौक़े पर राहत और बचाव कार्य तेज़ी से जारी है। लोगों को निकालने का प्रयास किया जा रहा है। आपको जानकर बहुत दुःख होगा कि मारने वाले में बच्चे भी शामिल हैं। आपको बता दें काट गाँव बूढ़ा केदार के पास ही स्थित है। इस हृदय विरादक घटना के बाद मौक़े पर राहत और बचाव कार्य के लिए एसडीआरएफ की टीम भी पहुँच गयी है।

 

 

केरल में बाढ़ ने मचायी भारी तबाही:

वहीं टिहरी गढ़वाल के बालगंगा तहसील में भयानक बारिश ने अपना क़हर बरपाया है। काट गाँव में बदल फटने की भी ख़बर है। बताया जा रहा है कि इससे आस-पास के इलाक़े में भारी तबाही मची हुई है। अभी केरल में भयानक बाढ़ की घटना को ज़्यादा दिन नहीं हुए हैं कि यह घटना हो गयी। देश के लोगों को केरल में आयी भयानक बाढ़ का ग़म था ही कि प्रकृति ने एक बार फिर से अपना क़हर बरपा दिया है। आपको बता दें केरल में पिछले सौ सालों में इतनी भयानक बाढ़ कभी नहीं आयी थी। इस बाढ़ की वजह से केरल में भयानक तबाही मची है।

 

आज भी जीवित है लोगों में इंसानियत:

केरल में कई लोगों के बने-बनाए घर पूरी तरह से टूट गए हैं, वहीं जिन लोगों के घर बचे भी हैं, उनमें से ज़्यादातर घर रहने लायक नहीं बचे हैं। केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए देशभर के लोग मदद के लिए आगे आ रहे हैं। जितना जिससे बन रहा है, मदद करने की कोशिश कर रहा है। इसी बीच कुछ ऐसे लोगों के बारे में भी पता चला, जिनका दिल वाक़ई में बहुत बड़ा है। इन्होंने अपने जीवन की परेशानियों को किनारे करते हुए बाढ़ पीड़ितों की ख़ूब मदद की है। इससे पता चलता है कि आज भी लोगों के अंदर इंसानियत बची हुई है।

 


इसे भी पढ़ें:

 

 

 

 

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More