THE ADDA | Hindi News - Breaking News, Viral Stories, Indian Political News In Hindi

धर्म परिवर्तन को लेकर जज की बीबी से होती थी बहस, गोली मारने से पहले दिया था संकेत

घटना को अंजाम देने से पहले डाला था फ़ेसबुक पोस्ट

0 4,573

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

शनिवार के दिन गुरूग्राम में एक बड़ा ही अजीबो-ग़रीब मामला देखने को मिला। वहाँ अतिरिक्त ज़िला एवं सत्र न्यायधीश कृष्णकांत की पत्नी और बेटे को उनके ही सुरक्षा गार्ड ने बाज़ार की बीच में गोलियों से छलनी कर दिया। इलाज के दौरान जज की पत्नी रितु की मौत हो गयी, जबकि बेटे ध्रुव की रविवार को इलाज के दौरान 9:20 पर मौत हो गयी। हालाँकि अभी तक इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार जब यह घटना हुई तो वहाँ लगभग 40 से ज़्यादा लोग मौजूद थे। लेकिन किसी ने भी पीड़ित को बचाने की कोशिश नहीं की। कुछ लोग यह देखकर डर गए जबकि कई लोगों को लगा कि पुलिस वाले चोरी की घटना पर कार्यवाई करने आए हैं।

 

जाँच के लिए किया गया है एसआईटी का गठन:

judge-wife-murder-son-critical-gunman-mahipal-arrested

एक चश्मदीद ने बताया कि पुलिस वाला बहुत ग़ुस्से में था और उसके हाथ में बंदूक़ भी थी। बता दें पुलिस ने जज के सुरक्षा गार्ड महिपाल को हिरासत में लेकर जाँच शुरू कर दी है। मामले को गम्भीरता से लेते हुए हरियाणा पुलिस ने जाँच के लिए एसआईटी का गठन किया है। डीसीपी सुलोचना गजराज के नेतृत्व में बनी इस एसआईटी में डीसीपी, 2 एसीपी और 4 इंस्पेक्टर हैं। रविवार को डीसीपी सुलोचना ने बताया कि अब तक साफ़ नहीं हो पाया है कि आरोपी ने जज की पत्नी और बेटे को आख़िर क्यों मारा? उन्होंने बताया कि आरोपी की रिमांड की माँग की जाएगी और इसके बाद जाँच आगे चलेगी।

 

धर्म परिवर्तन को लेकर करती थी जज की बीबी परेशान:

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 40 वर्षीय महिपाल यादव डेढ़ साल से जज कृष्णकांत की सुरक्षा कर रहा था। कुछ समय पहले उसने हिंदू धर्म त्यागकर ईसाई धर्म अपना लिया था। जानकारी के अनुसार इसी बात को लेकर जज की पत्नी और उसके बीच बहस होती रहती थी। पुलिस हिरासत में भी महिपाल यही कह रहा है कि धर्म परिवर्तन को लेकर जज की पत्नी उसे परेशान करती रहती थी। बता दें यह घटना शनिवार लगभग 3:30 बजे हुई। जज के परिवार की सुरक्षा में तैनात महिपाल यादव, जज की पत्नी और बेटे को लेकर गुरूग्राम के सेक्टर 51 स्थित आर्केडिया मार्केट में आया हुआ था।

 

घटना को अंजाम देने से पहले डाला था फ़ेसबुक पोस्ट:

judge-wife-murder-son-critical-gunman-mahipal-arrested

अचानक से मार्केट के बीच में ही कार रोककर महिपाल ने बाहर निकलते माँ-बेटे पर गोली चला दी। महिपाल ने रितु के सिने में दो गोली मारी उसके बाद बेटे ध्रुव के माथे पर भी दो गोली मारी। महिपाल में मौक़े पर मौजूद लोगों से कहा कि कोई भी बीच में नहीं आएगा। ये (ध्रुव) शैतान हैं और उसकी माँ (रितु) भी। गोली मारने के बाद महिपाल ने दोनों को कार में डालने की कोशिश की, लेकिन असफल होने के बाद वहाँ से फ़रार हो गया। जानकारी के अनुसार इस घटना को अंजाम देने से पहले महिपाल ने शुक्रवार की रात को लगभग 10 बजे फ़ेसबुक पर एक पोस्ट डाला था।

 

कुछ समय पहले सवार था महिपाल के ऊपर धर्म का भूत:

पोस्ट में पहले चार डॉट बनाए गए थे। बीच के दो डॉट को काट दिया गया था। जबकि ऊपर और नीचे के दोनों डॉट को जस का तस छोड़ दिया गया था। इस पोस्ट को देखने के बाद लगता है कि महिपाल ने जज की पत्नी और बेटे को मारने का प्लान पहले ही बना लिया था। बताया जा रहा है कि कुछ समय पहले महिपाल के ऊपर धर्म का भूत सवार हो गया था। वह ईसाई धर्म के एक आक्रामक प्रचारक के सम्पर्क में था। बता दें यह प्रचारक पूरी दुनिया में घूम-घूमकर लोगों को अपने धर्म के प्रति आकर्षित करने का प्रयास करता है। उसी के प्रभाव में आकर महिपाल ने धर्म परिवर्तन करने का निर्णय लिया था।

 

गिरफ़्तारी के बाद कुछ समय तक बड़बड़ाता रहा महिपाल:

judge-wife-murder-son-critical-gunman-mahipal-arrested

यह बात भी सामने आ रही है कि महिपाल जज की पत्नी और बेटे के ऊपर धर्म परिवर्तन को लेकर कई दिनों से दबाव बना रहा था। जब उन्होंने उसकी बात मानने से इनकार कर दिया तो महिपाल ने इस ख़ौफ़नाक घटना को अंजाम दे दिया। एसआईटी की पूछताछ के बाद यह साफ़ हो गया है कि महिपाल मानसिक रूप से परेशान नहीं है। उसने दोनों को मारने के लिए सोच-समझकर रणनीति बनाई हुई थी। वारदात को अंजाम देने के बाद ख़ुद को उसने ऐसे पेश किया, जैसे वह मानसिक रोगी हो। जब पुलिस ने उसे गिरफ़्तार किया तो वह घंटों कुछ ना कुछ बड़बड़ाता रहा।

 

पूरा इतिहास खँगालने में जुटी है पुलिस:

उसकी इस हरकत के बाद पुलिस को शक हुआ कि कहीं वह मानसिक रूप से परेशान तो नहीं है। लेकिन जब उससे पूछताछ की गयी तो साफ़ हो गया कि वह शारीरिक और मानसिक रूप से पूरी तरह स्वस्थ्य है। उसे किसी मनोचिकित्सक को दिखाने की ज़रूरत नहीं है। हालाँकि अभी तक वह यह बताने को तैयार नहीं हुआ है कि उसने इस ख़ौफ़नाक वारदात को आख़िर क्यों अंजाम दिया। बता दें महिपाल से पूछताछ एसआईटी के अलावा 10 अन्य टीमें भी कर रहीं है और उससे जानकारी निकालने की कोशिश में लगी हुई हैं। पुलिस इस समय महिपाल के पूरे इतिहास को खँगालने में जुटी हुई है।

 

 


 

Loading...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...

- Advertisement -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More