THE ADDA
THE ADDA: Hindi News, Latest News, Breaking News in Hindi, Viral Stories, Indian Political News

भारत के इन ख़ूबसूरत झरनों को देखकर, देखने के लिए मचल जाएगा आपका दिल

इन झरनों को देखते ही खो जाते हैं लोग

2,999

यह पृथ्वी बहुत ही बड़ी और बहुत ही ख़ूबसूरत है। इस दुनिया में कई ऐसी चीज़ें मौजूद हैं, जिनके बारे में जानकर लोगों के होश ही उड़ जाते हैं। भारत की बात की जाए तो यह पूरी दुनिया में सबसे ज़्यादा विविधता वाला देश है। भारत प्राकृतिक ख़ूबसूरती का भंडार है। भारत में समुद्र, पहाड़, नदियाँ, जंगल, झरने, रेगिस्तान सबकुछ मौजूद है। अगर आपके पास पैसा कम हो और आप बाहर कहीं घूमना चाहते है तो, चिंता करने की कोई ज़रूरत नहीं है। भारत के बारे में कहा जाता है कि अगर कोई देशवासी अपने देश का सही तरीक़े से भ्रमण कर ले तो शायद आपका विदेश घूमने का मन ही नहीं करेगा।

 

इन झरनों को देखते ही खो जाते हैं लोग:

भारत में कई ऐसी ख़ूबसूरत जगहें मौजूद हैं, जिनके बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं। लोग ऐसी जगहों को देखने के लिए भारत से हज़ारों मील दूर जाकर इसका नज़ारा लेते हैं, जबकि ये चीज़ें भारत में ही मौजूद हैं। आज हम आपको भारत के कुछ ऐसे कुछ ख़ूबसूरत झरनों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके बारे में शायद आपने पहले कभी सुना होगा। भारत के इन झरनों की ख़ूबसरती देखते ही लोग इसमें खो जाते हैं। यक़ीनन आप भी भारत के ख़ूबसूरत झरनो को देखकर धन्य हो जाएँगे।

 

ये हैं भारत के सबसे ख़ूबसूरत झरने:

दूध सागर (गोवा):

 

beautiful waterfalls

आपको जानकर काफ़ी हैरानी होगी कि दूध सागर ही भारत का एकमात्र ऐसा झरना है जो दो राज्यों की सीमा पर स्थित है। जानकारी के अनुसार दूध सागर कर्नाटक-गोवा के बॉर्डर पर स्थित है। गोवा और कर्नाटक के बॉर्डर से मंडोवा नदी बहती है, जिसपर दूध सागर बसा हुआ है। पणजी से इस झरने की दूरी लगभग 60 किलोमीटर है। मानसून के समय में इस झरने को देखने के लिए भारत ही नहीं बल्कि विदेशों से भी लोग आते हैं। दूध सागर झरने को सी ऑफ़ मिल्क के नाम से भी जाना जाता है।

 

अथिरापिल्ली वॉटरफ़ॉल (केरल):

beautiful waterfalls

देवताओं की धरती कहे जाने वाले केरल में एक ऐसी ख़ूबसूरत चीज़ भी है, जिसकी चर्चा पूरी दुनिया में की जाती है, मानसून, समुद्री किनारों और प्राकृतिक वॉटरफाल्स के लिए केरल मशहूर है। केरल में कई ख़ूबसूरत और शानदार झरने बने हुए हैं। यह वॉटरफाल्स किसी भी व्यक्ति का मन मोह सकते हैं। इस जगह पर 80 फ़ीट की ऊँचा

ई से पानी गिरता है।

 

 

चित्रकूट वॉटरफाल्स (छत्तीसगढ़):

beautiful waterfalls

छत्तीसगढ़ के चित्रकूट में स्थित वॉटरफाल्स देश का सबसे बड़ा और ख़ूबसूरत वॉटरफाल माना जाता है, यह वॉटरफाल छत्तीसगढ़ में नियाग्रा नदी इंद्रावती में जगदलपुर के पास गिरता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जिस वॉटरफाल कि बात की जा रही है, वह 29 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है, जबकि इसकी चौड़ाई समय और मौसम के

हिसाब से बदलती रहती है।

 

 

 

कोर्तल्लम वॉटरफाल (तमिलनाडु):

beautiful waterfalls

कोर्तम वॉटरफाल तमिलनाडु में स्थित है। इसे दक्षिण भारत का स्पा भी कहा जाता है। यह झरना तमिलनाडु के तिरुनवेली जिले में शहर के पक्षिमोत्तर घाट पर स्थित है। इस जगह को भी कई वॉटरफाल्स के लिए जाना जाता है। इस ख़ूबसूरत झरने को देखने के लिए लोग देश-विदेश से हर साल भारी मात्रा में एकत्र होते हैं।

 

 

 

धौंधर वॉटरफाल (मध्यप्रदेश):

beautiful waterfalls

यह वॉटरफाल मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले में स्थित है। इस जगह संगमरमर के पहाड़ भी हैं। संगमरमर की चट्टानों से होकर गुज़रने वाला यह जल प्रपात पवित्र नर्मदा नदी से बना हुआ है। यहाँ की संगममार चट्टानें विश्वप्रसिद्ध हैं। यहाँ बारिश के दिनों में पर्यटकों का जमावड़ा लगा रहता है।

 

 

 

 

जाग वॉटरफाल (कर्नाटक):

beautiful waterfalls

आपकी जानकारी के लिए बता दें जाग प्रपात महाराष्ट्र और कर्नाटक के बॉर्डर पर शरावती नदी पर स्थित है। इस जल प्रपात का पानी 250 मीटर की ऊँचाई से गिरता है, इस वजह से यह बहुत ही सुंदर दिखाई देता है। इसको एक अन्य नाम जेरसप्पा से भी जाना जाता है। यह जल प्रपात 830 फ़ीट ऊँचा है। इस वजह से यह भारत का दूसरा सबसे ऊँचा जल प्रपात है। केवल यही नहीं इस जल प्रपात को यूनेस्को ने दुनिया के सबसे अच्छे पर्यावरणीय स्थलों में से एक घोषित किया है।

 

 

 

खंड़धार वॉटरफाल (ओडिशा):

beautiful waterfalls

 

खंड़धार जल प्रपात ओडिशा राज्य के सबसे बड़े झरनों में से एक माना जाता है। यह झरना ओडिशा के सुंदरगढ़ जिले में हरे-भरे जंगलों के बीच स्थित है। इस वॉटरफाल का आकार घोड़े की पूछ की तरह दिखाई देता है। यह वॉटरफाल लगभग 801 फ़ीट ऊँचा है।

 

 

 

 

 

नोहकालीकाई वॉटरफाल (चेरापूंजी):

beautiful waterfalls

यह वॉटरफ़ॉल भारत के उस इलाक़े में स्थित है, जहाँ हर साल सबसे ज़्यादा बारिश होती है। जी हाँ हम बात कर रहे हैं चेरापूंजी की। इस जलप्रपात को भारत के सबसे ऊँचे जल प्रपात का दर्जा दिया गया है। एक बार इस जल प्रपात के पास की खड़ी चट्टान से एक लड़की लिकाई ने छलाँग लगाई थी, तब से इसका नाम नोहाकालीकाई पड़ गया। यह जलप्रपात भी अपनी ख़ूबसूरती के लिए जाना जाता है।

 

 

तालकोना वॉटरफाल (आन्ध्र प्रदेश):

beautiful waterfalls

यह झरना आन्ध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में श्री वेंकटेश्वर नेशनल पार्क में स्थित है। यह वॉटरफाल तिरुमाला पर्वत श्रेणियों के शुरुआत में ही है। इसकी ऊँचाई 270 फ़ीट है। यह झरना चंदन की लकड़ियों और जंगल की जड़ी-बूटियों से होकर आता है, इस वजह से इसके पानी का औषधीय महत्व भी है। इसके पानी का इस्तेमाल चिकित्सा में भी किया जाता है।

 

 

 

 

थोसेघर वॉटरफाल (महाराष्ट्र):

beautiful waterfalls

यह झरना महाराष्ट्र में स्थित है। यह भी अपनी ख़ूबसूरती के लिए काफ़ी लोकप्रिय है। आपकी जानकारी के लिए बता दें यह झरना महाराष्ट्र के सतारा जिले के कोंकन क्षेत्र की शुरुआत में ही पड़ता है। इस झरने की ऊँचाई 1150 फ़ीट है। इसी वजह से यह झरना देखने में बहुत ही सुंदर लगता है। इस घाटी में यह झरना पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बना रहता है। जानकारी के अनुसार इस सुंदर घाटी को कस पठार और कस झील के नाम से भी जाना जाता है।

तो आपने आज भारत के ख़ूबसूरत झरनों के बारे में जाना। यक़ीनन भारत के ये ख़ूबसूरत झरने आपको पसंद आए होंगे। भारत में ऐसी ही घूमने की कई ख़ूबसूरत जगहें हैं। अगली बार हम आपको भारत की किसी अन्य ख़ूबसूरत जगह के बारे में बताएँगे। तब तक आप भारत के इन ख़ूबसूरत झरनों को एकबार ज़रूर देख आइए। आपका मन भर जाएगा।

 


यह भी पढ़े- 

 

 

 

 

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More