THE ADDA | Hindi News - Breaking News, Viral Stories, Indian Political News In Hindi

धरने में राहुल गांधी ने साधा मोदी पर निशाना, कहा पूरा देश बीजेपी और संघ के ख़िलाफ़

राजद कार्यकर्ताओं के साथ निकला कैंडल मार्च

2,797

नई दिल्ली: बिहार के मुज़फ़्फ़रपुर में हुए भयानक कांड से इस समय पूरा देश सदमे में है। लोगों को यक़ीन ही नहीं हो रहा है कि सुशासन का दावा करने वाले नीतीश की सरकार में ऐसा कुछ हो सकता है। मुज़फ़्फ़रपुर कांड के बाद से देश की सभी बड़ी पार्टियों ने बीजेपी के ऊपर जमकर निशाना साधना शुरू कर दिया है। बालिका गृह की 34 बच्चियों के साथ यौन शोषण के विरोध में राजद ने शनिवार को जंतर-मंतर पर प्रदर्शन किया। इसमें कांग्रेस, आप, माकपा, इनेलो सहित 7 पार्टियों के नेताओं ने हिस्सा लिया। इस धरने में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शामिल हुए।

 

राजद कार्यकर्ताओं के साथ निकला कैंडल मार्च:

muzaffarpur rape case

राहुल गांधी ने सत्तारूढ़ पार्टी बीजेपी पर निशाना साधने का कोई मौक़ा नहीं छोड़ा। राहुल गांधी ने कहा कि इस समय देश की महिलाएँ सुरक्षित नहीं है। महिलाओं के ख़िलाफ़ इस समय देश में एक अजीब सा माहौल बन गया है। एक तरफ़ भाजपा-संघ है तो दूसरी तरफ़ पूरा देश खड़ा है। वहीं मुख्यमंत्री केजरीवाल ने इस मामले से जुड़े दोषियों को तीन महीने के अंदर फाँसी देने की माँग की है। राहुल गांधी ने राजद कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर कैंडल मार्च भी निकाला। राहुल गांधी ने कहा कि, ‘हम हिंदुस्तान की हर महिला की सुरक्षा की बात कहने के लिए यहाँ आए हुए हैं। हम देश के ग़रीब, किसान, महिला और बेटियों के साथ खड़े हैं।’

 

बिहार में जंगल राज नहीं बल्कि राक्षस राज है:

muzaffarpur rape case

राहुल गांधी ने आगे कहा कि, ‘ मीडिया निडर होकर काम करे, में आपके साथ हूँ। यहाँ विपक्ष साथ खड़ा दिखाई दे रहा है। प्रधानमंत्री और उनके लोगों को आने वाले कुछ महीनों में सच्चाई दिखेगी।’ राजद नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर बालिका गृह कांड के दोषी ब्रजेश ठाकुर को बचाने का आरोप लगाया है। तेजस्वी यादव ने कहा कि ये पीड़ित बच्चियों को बचाने की लड़ाई है। हम दोषियों को फाँसी के फंदे तक पहुँचाने के लिए लड़ेंगे। ताजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘सरकार की नाक के नीचे बेसहारा बेटियों का यौन शोषण होता रहा और चाचा नीतीश की अंतरात्मा नहीं जागी। बिहार में जंगल राज नहीं बल्कि राक्षस राज है।’

 

सरकार के पास पहले ही आ चुकी थी जानकारी लेकिन नहीं की कार्यवाई:

वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, ‘बालिका गृह में 40 निर्भया के साथ दुष्कर्म हुआ। सरकार के पास यह जानकारी आ चुकी थी, लेकिन उनकी तरफ़ से कोई कार्यवाई नहीं की गयी। इस मामले के आरोपियों के सम्बंध बड़े-बड़े नताओं से हैं। उनको बचाने वाले उनसे ज़्यादा बड़े दोषी हैं।’ आपको बता दें इस प्रदर्शन के मंच पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, आप नेता अरविंद केजरीवाल, संजय सिंह, सोमनाथ भारती, भाकपा नेता डी राजा, माकपा नेता सिटरम येचुरी, जदयू के पूर्व नेता शरद यादव, हम के नेता जितनराम माँझी, राजद सांसद मिसा भारती, इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला और छात्र नेता कन्हैया कुमार भी नज़र आए।

 

केवल नारा देने से कोई बदलाव नहीं होगा देश में:

आपकी जानकारी के लिए बता दें मुज़फ़्फ़रपुर के बालिका गृह में यौन शोषण का मामला टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ़ सोशल साइंस की कोशिश टीम की ऑडिट रिपोर्ट से सामने आया था। इस मामले के सामने आने के बाद से पूरे देश में कोहराम मचा हुआ है। हर तरफ़ मोदी सरकार और नीतीश सरकार की बुराई हो रही है। लेकिन ये दोनो ही शरकार बेशर्मी से इस मामले पर चुप्पी साधे हुए है। जो नरेंद्र मोदी सत्ता में आने से पहले बड़ी-बड़ी बातें करते थे, आज वो नरेंद्र मोदी देश के इतने बड़े कांड पर चुप्पी साधे हुए हैं। लोग पीएम मोदी के बारे में कह रहे हैं कि केवल बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देने से बदलाव नहीं आएगा। उसके लिए कुछ काम भी करना पड़ेगा।

 

मुज़फ़्फ़रपुर मामले में आए हैं कई रसूखदारों के नाम:

muzaffarpur rape case

मुज़फ़्फ़रपुर मामले में सकी रसूखदारों के नाम भी सामने आए हैं। बालिका गृह के संचालक ब्रजेश ठाकुर, अधीक्षक इन्दु कुमारी समेत 9 लोगों को जेल भेजा जा चुका है। हालाँकि इन लोगों को जेल जानें के बाद भी कोई चिंता नहीं है। अभी कुछ दिनों पहले ही एक फ़ोटो वायरल हो रही थीम जिसमें ब्रजेश ठाकुर के हाथ में हथकड़ी लगी हुई थी और वह बेशर्मों की तरह बेफ़िक्र होकर हंस रहा था। इसी बात से यह साबित हो जाता है कि इतना गंदा काम करने के बाद भी उसके पास हिम्मत ऐसे ही नहीं आयी होगी, इसके पीछे ज़रूर किसी बड़े नेता का हाथ होगा। शुक्रवार को इस घटना पर बोलते हुए नीतीश कुमार ने कहा था कि, यह घटना शर्मसार करने वाली है, मुझे इससे बहुत आत्मग्लानि हुई है। किसी भी दोषी को बख़्शा नहीं जाएगा।


यह भी पढ़े:

 

 

 

 

Loading...

Loading...

- Advertisement -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More