THE ADDA | Hindi News - Breaking News, Viral Stories, Indian Political News In Hindi

गुजरात हिंसा पर पीएम मोदी ने तोड़ी अपनी चुप्पी, कहा-कांग्रेस का काम फूट डालो और राज करो

जगह-जगह शुरू हो गए हैं सरकार के ख़िलाफ़ प्रदर्शन

0 5,055

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

इस समय गुजरात की हालत काफ़ी ख़राब है। वहाँ से बड़ी संख्या में उत्तर भारतियों का पलायन जारी है। हर रोज़ काफ़ी संख्या में उत्तर भारतीय गुजरात छोड़कर अपने-अपने गृहनगर आ रहे हैं। इसकी वजह से भारतीय राजनीति में हलचल मच गयी है।। कई दिनों से इस मामले में चुप्पी साधे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आख़िरकार आपनी चुप्पी तोड़ दी है। जी हाँ गुजरात में उत्तर भारतियों के साथ हो रही हिंसा और पलायन पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए पीएम मोदी ने बुधवार को कांग्रेस को अपने निशाने पर लिया। पीएम मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस का मंत्र बांटो और राज करो है, जबकि भाजपा सबका साथ-सबका विकास के मंत्र पर काम करती है।’

 

कांग्रेस ने किया है उल्लू सीधा करने का काम:

मोदी जी के इस कथन का कांग्रेस जमकर मज़ाक़ उड़ा रही है। कांग्रेसियों का कहना है कि, मोदी राज में किसका विकास हो रहा है, यह किसी से छुपा हुआ नहीं है। आपकी जानकारी के लिए बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा के मेरा बूथ, सबसे मज़बूत अभियान के तहत रायपुर, मैसूर, धौलपुर, दमोह और आगरा के भाजपा बूथ कार्यकर्ताओं को नमो एप के ज़रिए सम्बोधित कर रहे थे। इसी सम्बोधन में उन्होंने कहा कि, कांग्रेस ने आजतक बांटो और राज करो वाली नीति पर अमल किया है। छोटी-छोटी बातों पर लोगों को भड़काकर अपना उल्लू सीधा करने का काम किया है।

 

14 महीने की बच्ची के साथ किया बलात्कार:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने सम्बोधन में आगे कहा कि हम सुख बाँटने वाले हैं जबकि कांग्रेस समाज बाँटने वाले हैं। हमें सुख बाँटकर देश के हर एक नागरिक के जीवन में सुख लाने का प्रयास करना है। उनका काम समाज को बाँटकर ख़ुद के परिवार का भला करने का है। पीएम मोदी ने आरोप लगाया है कि 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र ऐसी घटनाओं को कांग्रेस की तरफ़ से बढ़ावा दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का काम है तोड़ो, बाटों और एक-दूसरे से लड़ाओ। आपकी जानकारी के लिए बता दें कुछ दिनों पहले गुजरात में एक 14 महीने की बच्ची के साथ बलात्कार जैसी घिनौनी घटना को अंजाम दिया गया था।

 

जगह-जगह शुरू हो गए हैं सरकार के ख़िलाफ़ प्रदर्शन:

pm-modi-speaks-on-gujarat-exodus-congress-believes-in-divide-and-rule

इस घटना के बाद उत्तर भारतियों के ख़िलाफ़ हिंसा बढ़ गयी। इसके बाद गुजरात के लोगों ने उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों पर चुन-चुनकर हमले करने शुरू कर दिए। इसके बाद लोगों के पास गुजरात छोड़कर पलायन करने के अलावा कोई दूसरा रास्ता ही नहीं बचा। इस घटना के बाद देश में जगह-जगह पीएम मोदी और भाजपा के ख़िलाफ़ प्रदर्शन भी शुरू हो गए हैं। पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में उनके नाम के ‘गुजराती नरेंद्र मोदी बनारस छोड़ो’ के पोस्टर भी लग गए हैं। इस मामले में विपक्ष ने जमकर मोदी सरकार पर हमला शुरू कर दिया है। वहीं मोदी सरकार और गुजरात की भाजपा सरकार अपना बचाव करती हुई दिखाई दे रही है।

 

पीएम मोदी ने सिखाए ठोस रणनीति पर काम करने के गुर:

कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए बीएसपी सुप्रीमो मायावती का बिना नाम लिए उनके ऊपर भी निशाना साधा। पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि, ‘पिछले दिनों गठबंधन की एक नेता का यह बयान आपने सुना होगा। उन्होंने यहाँ तक कहा कि केंद्र में एक मज़बूत नहीं बल्कि एक मजबूर सरकार की ज़रूरत है। आप समझ सकते हैं कि आख़िर ये मजबूर सरकार की क्यों अपेक्षा रखती हैं।’ बता दें इसी साल के अंत में पाँच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इसके बाद अगले साल 2019 में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं। इस वजह से भाजपा की मुश्किलें और भी बढ़ती जा रही हैं। ऐस में कार्यकर्ताओं को ठोस रणनीति से काम करने के गुर पीएम मोदी ने सिखाए।

 

केंद्र में मज़बूत नहीं मजबूर सरकार की है ज़रूरत:

pm-modi-speaks-on-gujarat-exodus-congress-believes-in-divide-and-rule

आपकी जानकारी के लिए बता दें बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने जुलाई में अपने एक बयान में कहा था कि, ‘बीएसपी के जन्मदाता और संस्थापक कांशीराम की ये राजनीतिक आवाज आज सटीक बैठती है कि वर्तमान हालात में मजबूत नहीं मजबूर सरकार की जरूरत है। मतलब केंद्र में ऐसी ही गठबंधन की सरकार होनी चाहिए ताकि उस पर देशहित में काम करने की तलवार लटकी रहे और सरकार तानाशाही का वैसा व्यवहार नहीं कर सके जैसा आजकल बीजेपी के काल में दिख रहा है। भाजपा के ख़िलाफ़ बन रहे महागठबंधन पर पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि, गठबंधन की आप लोग चिंता करना छोड़ दीजिए।

 

चुनाव जीतना हमारे लिए है सेवा करने का है एक अवसर:

उन्होंने आगे कहा कि ये मजबूरी से इकट्ठा हुए लोग हैं जो ज़मानत पर हैं। वो लोग ख़ुद को बचानबे का रास्ता ढूँढ रहे हैं। ये लोग जनता की भलाई के लिए इकट्ठा नहीं हुए हैं, बल्कि इनका एक ही मक़सद है मोदी को भगाओ। पीएम मोदी ने बूथ कार्यकर्ताओं को ‘मेरा बूथ सबसे मज़बूत’ का मंत्र देते हुए कहा कि चुनाव जीतना हमारे लिए किसी को पराजित करने का अहंकार नहीं है, बल्कि यह हमारे लिए सेवा करने का एक अवसर है। इसी साल होने वाले पाँच राज्यों के विधानसभा चुनाव के बारे में कहा जा रहा है कि भाजपा की स्थिति कुछ अच्छी नहीं है। इस बार भाजपा को पीछे छोड़ते हुए कांग्रेस कई जगहों पर अपनी सरकार बनाएगी।


इसे भी पढ़ें:-

Loading...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...

- Advertisement -

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More