THE ADDA
THE ADDA: Hindi News, Latest News, Breaking News in Hindi, Viral Stories, Indian Political News

पीएम मोदी ने कहा, एक साथ चुनाव कराना लोकतंत्र के लिए है अच्छा संकेत

अमित शाह ने पत्र लिखकर किया था समर्थन

4,061

एक साथ लोकसभा और विधानसभा चुनाव कराए जाने पर मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा था कि ऐसा सम्भव नहीं है। इसके बाद भी नरेंद्र मोदी ने इस बात को एक बार फिर आगे बढ़ाया है। नरेंद्र मोदी ने एक साथ चुनाव कराए जाने को लेकर कहा है कि यह लोकतंत्र के लिए एक अच्छा संकेत है। उन्होंने यह भी कहा कि यह अटल जी के लिए एक सच्ची श्रद्धांजलि होगी, जिन्होंने देश की राजनीतिक संस्कृति को बदली थी। रविवार को रक्षाबंधन के दिन अपने मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने महिला सम्मान के प्रति केंद्र के क़दमों का उल्लेख करते हुए सरकार की कई उपलब्धियाँ भी गिनाई।

 

अमित शाह ने पत्र लिखकर किया था समर्थन:

pm modi

आपकी जानकारी के लिए बता दें पीएम मोदी के मन की बात का यह 47वाँ संस्करण था। अपने कार्यकाल के दौरान एक साथ लोकसभा और विधानसभा कराए जानें के एजेंडे पर मोदी लगातार बोलते रहे हैं। इसी वजह से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने विधि आयोग को पत्र लिखकर इसका समर्थन भी किया था। अमित शाह के इस क़दम को 11 राज्यों में चुनाव की मंशा के रूप में देखा गया था। हालाँकि उस अटकल को पार्टी ने ख़ारिज भी कर दिया था। लेकिन यह बात तो तय है कि भाजपा इस मुद्दे को आख़िरी मुक़ाम तक लाने की हर कोशिश करेगी।

अटल जी थे एक सच्चे देशभक्त:

अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी जनता की माँग पर भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बारे में बात कर रहे थे। उन्होंने वाजपेयी के प्रधानमंत्री रहते हुए सभी लोगों को तिरंगा फहराने का अधिकार मिलने, केंद्र और राज्य कैबिनेट का आकार तय करने, दल बदल क़ानून को सख़्त बनाने जैसे बड़े क़दमों का भी उल्लेख किया। पीएम मोदी ने कहा कि गुड गवर्नेंस को मुख्य धारा में लाने के लिए देश हमेशा अटल जी का आभारी रहेगा। वो एक सच्चे देशभक्त थे। अटल जी ने भारत की राजनीतिक संस्कृति में में जो बदलाव लाने का प्रयास किया था, उससे देश को काफ़ी लाभ हुआ है।

देश हमेशा न्याय के लिए उनके साथ खड़ा है:

pm modi

अपने लगभग आधे घंटे के कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने केरल में आयी भयंकर बाढ़ से पीड़ित लोगों की मदद के लिए आगे आने वाले लोगों और संगठनों की भी प्रशंसा की। उन्होंने यह उम्मीद जताई कि केरल एक बार फिर से खड़ा होगा। मोदी ने मुस्लिम महिलाओं को जल्द से जल्द तत्काल तलाक़ के ख़िलाफ़ क़ानून का भी आश्वासन दिया। मोदी ने कहा कि लोकसभा से यह विधेयक पारित हो गया है, लेकिन राज्यसभा में पास नहीं हो पाया। मोदी ने कहा कि में मुस्लिम महिलाओं को यह विश्वास दिलाता हूँ कि देश उन्हें न्याय दिलाने के लिए हमेशा साथ खड़ा है।

12 साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने पर फाँसी की सज़ा:

मोदी ने अपने मन की बात कार्यक्रम के दौरान कहा कि दुष्कर्म करने वालों को देश सहन करने के लिए तैयार नहीं है। इसलिए संसद ने आपराधिक क़ानून संशोधन विधेयक को पास करके कठोरतम सज़ा का प्रावधान भी किया है। दुष्कर्म करने वालों को कम से कम 10 साल की सज़ा होगी। जो लोग 12 वर्ष से कम की बच्चियों के साथ दुष्कर्म करते हैं, उन्हें फाँसी की सज़ा होगी। इसके साथ ही मोदी ने अपने मन की बात कार्यक्रम में देशभर के लोगों को रक्षाबंधन भी शुभकामनाएँ दी। उन्होंने कहा कि ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया गया, जिसकी दशकों से माँग की जा रही थी। एससी-एसटी क़ानून को पुराने स्वरूप में पास कर दिया गया है। यह क़ानून अपराधियों को अत्याचार करने से रोकेगा और दलित समुदाय में विश्वास भरेगा।

 


इसे भी पढ़ें:

 

 

 

 

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More