THE ADDA | Hindi News - Breaking News, Viral Stories, Indian Political News In Hindi

- Advertisement -

Browsing Tag

government

आरबीआई के गवर्नर को संघ के संगठन की धमकी, कहा-सरकार के साथ मिलकर काम करें नहीं तो दें इस्तीफ़ा

अगर सही तरह से देखा जाए तो इस समय देश में कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है। एक तरफ़ देश की सबसे बड़ी जाँच एजेंसी में घमासान मचा हुआ है तो वहीं बैंकों का बैंक कहे जानें वाले रिज़र्व बैंक की भी हालत ख़राब चल रही है। केंद्र सरकार और रिज़र्व बैंक के…

बाबरी मस्जिद के पक्षकार इक़बाल अंसारी को मिला हिंदू संगठनों से धमकीभरा ख़त

भारतीय राजनीति में बाबरी मस्जिद और राम जन्मभूमि का मुद्दा हमेशा से ही सबसे ज्वलंत मुद्दा रहा है। हर चुनाव में कोई ना कोई राजनीतिक पार्टी इसका इस्तेमाल करती है। हिंदू धर्म के लोगों की अयोध्या से काफ़ी भावनाएँ जुड़ी हुई हैं, जिसका फ़ायदा…

स्वच्छ भारत की सच्चाई, हर तीन दिन में एक सफ़ाईकर्मी की मौत

भारत में तेज़ी से स्वच्छ भारत अभियान चल रहा है। लेकिन सफ़ैकर्मियों की हालत काफ़ी ख़राब है। यहाँ हर तीन दिन में एक सफ़ाई कर्मी की मौत होती है। हाल ही में यह आँकड़ा देश की एक शीर्ष एनजीओ ने सामने रखा है। आपकी जानकारी के लिए बता दें सफ़ाई…

जानिए पेट्रोल और डीज़ल के दाम बढ़ने में केंद्र सरकार की क्या भूमिका है

यह बात किसी को बताने की ज़रूरत नहीं है कि आज के समय में भारत में सबसे महँगा पेट्रोल और डीज़ल मिल रहा है। लगातार बढ़ती क़ीमतों की वजह से आम आदमी काफ़ी परेशान हो गया है। बढ़ रहे पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमतों की वजह से देश का किसान बहुत परेशान हैं।

राष्ट्रीय सुरक्षा की कीमत चुका रहे हैं यहाँ के ग्रामीण

देश की आंतरिक सुरक्षा और बाहरी खतरों के कारण अब हर तरफ चौकसी बरती जा रही है। सेना प्रतिष्ठान खासतौर से कड़ी सुरक्षा के घेरे में आ गए हैं। इस कारण पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय के आसपास सैन्य छावनी के चारों तरफ बसे हुए लगभग 20 गांवों के लोगों को…

वामपंथियों की गिरफ़्तारी पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई सरकार को फटकार

मुंबई: भीम कोरेगाँव मामले में वामपंथी विचारकों की गिरफ़्तारी के बाद सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को जमकर फटकार लगायी है। कोर्ट ने कहा कि विरोध लोकतंत्र का सेफ़्टी वाल्व है, अगर प्रेशर कुकर में सेफ़्टी वाल्व नहीं होगा तो वह फट जाएगा।

सरकार को भी चाहिए नरबलि!

नरबलि वो भी 21वीं सदी में, पर हाँ यह सच है। कालांतर में नरबलि और घात लगाना हमारे समाज का स्याह पक्ष रहा है। मानव विकास के साथ-साथ नरबलि भी समाज सुधारकों के प्रयासों से धीरे-धीरे ख़त्म हो गयी थी। लेकिन यह पूर्ण रूप से ख़त्म नहीं हुयी। आज भी…

मानसिकता ही रेपिस्ट है तो आख़िर कैसे रुके बलात्कार?

राष्ट्रीय अपराध रिकोर्ड ब्यूरों के अनुसार देश में हर घंटे 106 मामले बलात्कार के दर्ज किये जाते है, हर आधे घण्टे मे 4 औरते बलात्कार की शिकार हो जाती है.